कृप्या व्याघ्री हरितकी बनवाने वाली कोई फारमेसी आप के संज्ञान में है तो पता बताएं।@सभी चिकित्सक

3 Likes

LikeAnswersShare

डॉ मुद्गल जी सादर अभिवादन। आप ने व्याघ्री हरीतकी बनाने वाली कंपनी पूछी है। आप स्वम् वैध है, आप को औषधियों का स्वम् निर्माण करना चाहिए। यह कोई मुश्किल काम नहीं है। इस को बनाने की विधि भैषज्य रत्नावली के कास रोगाधिकार अध्याय में मिल जायेंगी।

आदरणीय सिंह साहिब जी ,आप का निर्देश बिलकुल उचित है।२० वर्ष पिता श्री के साथ मिल कर कुपीपक्व के इलावा रस रस भस्भ,आसव/अरिष्ट शुद्धि आदी सब कुछ सीखा,किया ।अब जीवन के चोदे पड़ाव पर बनी हुई औष्ध का लोभ तो हो ही जाता है। सर फिर भी संदेह वाली औष्धी तो में खुद ही बनाने की कोशिश करता हूं। कृ. नज़रें इनायत रखना।ईश्वर आप को सुखद दीर्घ आयु प्रदान करें।@Dr. D. P. Singh ji.
0

/G 9H

पुत्र डॉ हेमंत अधिकारी आप कैसी बात कर रहे हैं, मेंने भैषज्य रत्नावली का चेप्टर बताया है। जिसका नाम कास रोगाधिकार है

डॉ हेमंत अधिकारी आप अपना फोन नंबर भेजे जिसमें में आप के कानो की खिंचाई कर सकु।

डा अधिकारी जी आप भाग्यवान हैं जो बड़ों का प्यार दुलार मिठी मिठी झिड़की के रूप में योग्य सम्मानिय सिंह साहिब से मिल रहा है। हमारे उत्कृष्ट बैध पिता श्री तो रहे नहीं । डा सिंह साहब डा अधिकारी तो पहले ही बहुत सोम्य पृवृति अनुशासीत व@ विद्वान चिकित्सक है। क्यूरोफि डेस्क से मुझे उन्हीं ने जोड़ा था।बहुत खूब अच्छा लगा।आप दोनों महानुभावों को प्रणाम।
0

View 1 other reply

Balangir, Odisha me bana jata H sir

रोगाधिकार क्या है सर इस योग का?