अंडे के छिलके के गुण को आयुर्वेद के विद्वानों ने 4000 वर्ष पूर्व ही पहचान लिया था, जिसका प्रयोग औषधि के रूप में तब से लेकर अब तक आयुर्वेद की प्रसिद्ध औषधि कुक्कुटाण्ड त्वक भस्म के नाम से लगातार किया जा रहा है । इस भस्म के ऊपर आयुर्वेद के मनीषियों के द्वारा हज़ारों वर्ष पूर्व किये गए अनुसंधानों को अब नए तरीके से अपना बताकर आधुनिक जगत के लोग प्रचारित-प्रसारित कर रहें है। कुक्कुटाण्ड भस्म (अंडे के छिलके से तैयार) की आयुर्वेद में बताई गई खूबियों को जाने.... Kukkutand Twak Bhasma - कुक्कुटाण्ड त्वक भस्म Kukkutand Twak Bhasma is a rich source of Natural calcium. Reference: R.T.S. - 1 Dose: 250 – 375 mg or take as directed by your doctor. Anupana: Honey Uses: Prameh (Diabetes), Motra roga (All kind of urinary problems), Vajikaran & Rasayan, Rajovikar. Company: Brahm Ayurved MRP: 10 g - 96 ₹ जानिए कुक्कुटाण्ड त्वक भस्म के बारे में हिंदी में: यह भस्म कैल्शियम का एक भरपूर प्राकृतिक स्रोत है। आयुर्वेद का यह एक बहुत ही सौम्य योग है, जिसे छोटे बच्चों व दुर्बल स्त्रियों को भी दे सकते हैं। इस भस्म को प्रमेह (सभी प्रकार की डायबिटीज), मूत्र रोग में मलाई के साथ खाने से लाभ मिलता है। यह वाजीकर व रसायन है । सभी प्रकार के शुक्र विकार में छोटी इलाइची चूर्ण व कान्त लौह भस्म के साथ मिलकर द्राक्षासव के अनुपान के साथ लेने से शुक्र दोष दूर होते हैं। स्त्रियों के रजो विकार में इसका प्रयोग करना श्रेष्ठ फलदायक होता है, प्रसव के बाद जिन स्त्रियों में दौर्बल्य होता है उनमें प्रतापलंकेश्वर रस के साथ इस भस्म को अनार के शर्बत के साथ देने से व साथ में दशमूल क्वाथ का सेवन करने से स्त्रियों का दौर्बल्य दूर होता है। Dr. Hemant Adhikari Brahm Ayurved

18 Likes

LikeAnswersShare

@Dr hemant adhikari ji I totally agree with u. This is what I have raised a question today. That some people r trying to harm Ayurveda in one or different way. It's our responsibility. To highlight such issues and not only save Ayurveda even popularise it. Also use such preparation in our practice . Thanks so much

Very nice, informative and well described post sir. Thank you.

sir..I hve once asked regarding kukkutanda twak bhasma administration details in one post..I couldn't know at that time but thnk u for detailed information now..helpful video post sir

For all Ayurvedic Bhasma administration dosage, formation is provided in "Ayurveda Saar sangraha" BADIYANATH.
3

View 1 other reply

Informative & helpful Post and nice Video sir

Thank you doctor
0

Nice video sir.

Dr, Are you related to Lt. Dr. Harimohan choudhary (LM fame) whose Son-in-law is Dr Mullick.( An old ORKUT Chum)..a great knowledgeable soul whom I met personally in Kolkata in 2000. He works on Cancer.
0

Helpful post sir

Very nice post sir thanku

Nice information sir For kuktantak bhasam

Very helpful and informative article sir.

Informative & Educative!

Load more answers

Diseases Related to Discussion