Concluded Case

आंत्र गरमी

मित्र चिकित्सकों को सप्ताह पहले ईस रोगी के निदान/चिकित्सा हेतू शेयर किया था बहुमत हेमनगोईमा के निदान किया गया,परन्तु चिकित सा हेतू विरोध आभास के कारण मेने ईस प्रकार योग बना कर दिया। गंधक रसायन+सत्व गिलोय+मुक्ताशुक्ति पिष्टी+अविपतिकर सुबह मलाई के साथ व शाम को गुलकन्द(मोती युक्त)/दुध के साथ। आरोग्य व.वटी+सुतशेखर+कामदूधा रस भोजन के साथ। 10 दिन की दवा मात्र से रोग बिलकुल शांत हो गया है। (पिक्चर देखें). मेने ईसे आंत्र की गरमी मांन कर योग दिया था। आशा है यह निदान/चिकित्सा ऊपयोगी/सहायक होगी। रोगी को 15 दिन के लिऐ दवा दी गयी है।

5 Likes

LikeAnswersShare
Concluded answer
अति सुन्दर परिणाम है धन्यवाद देता हूं
All Answers
Congratulations S.k. @Mudgal sir Thanks for sharing your Clinical Experience with us
Thank you doctor
1
Thanks sir for sharing ur clinical experience with us
Thank you doctor
0
अति सुन्दर परिणाम है धन्यवाद देता हूं
Thank you doctor
0
Very nice , thank you for sharing
Lot of tnx Dr.
0
Congratulations Sir
Lot of tnx.Dr.
0
Tnx.fr appreciation.
Congratulations sir
Thank you doctor
0
Congratulations sir
Thank you doctor
0
Congratulations sir
Lot of tnx Dr.
0
Congratulations
Thank you doctor
0
Load more answers

Cases that would interest you