A 58/f patient c/o systemic hypertension with ischemic heart disease with rt hemiplegia with global aphasia vital is stable suggest the valuable feedback in this case

2 Likes

LikeAnswersShare

आयुर्वेद के अनुसार रोगी वात व्याधि से ग्रस्त है। चिकित्सा संबंधी योग,,,, बृहत वात चिंतामणि रस स्वर्ण युक्त 1 रत्ती एकांग वीर रस 2 रत्ती रस राज रस 1 रत्ती शहद में मिलाकर सुबह-शाम सेवन कराएं महारास्नादि क्वाथ 25 ग्राम सुबह-शाम खाने के बाद दें। योग परिक्षित है। पिछले 40 वर्ष से प्रयोग कर रहा हूं।

Thank you doctor
0

Treatment Rasa rajarasa, Brihat vata chintaamani swarnayukta, Tab Cardimap BD, Hrudyasava(Dabur), ksheerabala taila 7 times laghu Abhyaga and Nirgundiyukta patra pinda swedha.

Thank you doctor
0

Diseases Related to Discussion