Concluded Case

रसायन ( general introduction)

लाभोपायो हि शस्तानां रसादिनां रसायनम्।। प्रशस्त रसादि धातुओं को प्राप्त करने के जो उपाय हैं,उसे रसायन कहते हैं। आयुर्वेद में रसायन का कितना महत्व है इसका ज्ञान इस बात से किया जा सकता है कि हर आचार्य ने अष्टांग आयुर्वेद में रसायन शास्त्र का भी वर्णन किया है। आचार्य वाग्भट्ट ने रसायन का वर्णन जरा विज्ञान के नाम से किया है। रसायन का प्राथमिक कर्म जरादि विनाशन तथा गौण कर्म व्याधि विनाशन है। शाड्धर संहिता में रसायन की व्याख्या इस प्रकार मिलती है- रसायनं च तच्ज्ञेयं यज्जराव्याधिनाशनम्।।

3 Likes

LikeAnswersShare
Concluded answer
सु श्री डो. कु. भावनाजी, अतिव सुंदर व प्रभावी लेख रसायनम् लाभा: | अभिनंदन |
All Answers
सु श्री डो. कु. भावनाजी, अतिव सुंदर व प्रभावी लेख रसायनम् लाभा: | अभिनंदन |
Thank you doctor
0