Overdrugging

1 Like

LikeAnswersShare
ओपिओइड: मेथाडोन (Methadone) और नाल्ट्रेक्सोन (naltrexone) का उपयोग ओपिओइड के आदि व्यक्ति के इलाज के लिए किया जाता है। ये दवाएं वापसी के लक्षणों को कम कर देती हैं और दुष्परिणामों से राहत देती हैं। ये सभी दवाएं, नशे की मांग और संबंधित आपराधिक व्यवहार को कम करने में सहायता करती हैं और उनके व्यवहार संबंधी उपचार के लिए सहायता करती हैं। तम्बाकू: निकोटीन को छोड़ने की थेरेपी कई रूप में की जाती हैं, जिनमें पैच (patch), स्प्रे, गम और लोजेंज (lozenges) शामिल हैं। शराब के लिए तीन अनुमोदित दवाएं निम्नानुसार हैं: नैलट्रीसोन (Naltrexone) अकेम्प्रोसेट (Acamprosate) डिसुलफिरम (Disulfiram) सहवर्ती स्थितियों: अवसाद या चिंता जैसी मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों के इलाज के लिए भी अन्य दवाएं उपलब्ध हैं, जो कि व्यक्ति की लत को छुड़ाने में योगदान देती हैं।
Drugging due to wrong selection of homeopathic medicine have ADVERSE effects due to frequent repetition in lower potencies , source of the medicine , in weak patients etc....are considered. We all know that what happens when Silcea or Phosphorus given frequently in lower potencies in patients with TB in latent stages. Or Kali carb to gouty patients.... ( Ref Aph No : 249 & 283 ) also.
Valuable opinion
0
Wait n watch for some days... Thn. Recase taking n form a new totality thn give medicine as accordingly... Bcoz untill u dnt know the wrong medicine thn how can u give or select the antidote of that medicines ... ( That wrong medicines which all ready taken out by the pt...) If u know the wrong medicine which had takenout by the pt Thn u can give the antidote of that medicine... Other wise how can u decide which medicine can give result... N prove antidoted
It's not about single medicine but many
0
One medicine mentioned in MM for antidoing the effects of too much medicine ?
Camphora@Dr. George Kurien
0

View 1 other reply

By using Nux Vomica or Aloe Socotrina
Thank you doctor
0
Nothing will happen
Thank you doctor@Dr. K.suresh Kuzhikandathil can you please explain why?
0

View 3 other replies