Chloroquine back for Corona ?

ईस समाचार पर ऐक नजर डाले.हमारे यहां तो मलेरिया नाशक वटी नाम से भी ददवा है।जहां क्लौरोक्वीन सभी को माफिक नही आती,मलेरिया वटी(विष्मज्वर) का कोई रिऐक्सन नही उल्टे ऐक्सन करती है देखें योग. गोदन्ती भस्म,शु.हरताल,गिलोय सत्व,बंसलोचन,छोटी ईलायची सम भाग को सहदेवी के रस की भावना। (सहदेवी तो अकेली भी सर्मथ है ). कुछ प्रसिध फारमेसीयों का कम्बिनेशन देखें 1 त्रिभवन किरती,महाजवरांकुश,सुदरशन चूरण,गोदन्ति भस्म,शंख भस्म,कपर्द भस्म,कायफल स्फटिका आदि का योग( जन्तायु ) 2. लक्ष्मीविलास,गोदन्ति,त्रिभुवन किरति,,मृत्यंज्य रह,द्रौंण पुष्पी,सुदरशन सत्व आदि 3 महाज्वरांकुश,गोदन्ति,शु.स्फिटिका,कालमेघ,कुटकी,सुदरशन,द्रौणंपुष्पी,म.सुद.न,महाज्वरांकुश,शु.बछनाग,भावना चिरायता। 4. कालमेघ,कुचला,सप्तपरण,करंजुआ,कुटकी सभी ऐक्सटररेक्ट,स्फिटिक भस्म,मुक्ता शुक्ति।( सभी गर्रग फारमा) 5. ईस के अलावा भी अनेकों योग उपलब्ध हें। मल्ल + स्फिटिका भस्म ,विष्मज्वरान्यक लोह पुटपक्कव योग अति प्रभाव शाली हैं। 6 मुझ जेसे अनेको मित्र करोना कीट के बारे में नही जानते होंगे क्यूकि ईस की जानकारी /निदान/चिकित्सा ऐलोपेथी के दायरे में ही रखी गयी है। अगर यह जिवाणु,विषाणु,वायरस आदि किसी भी कृमी परिवार से भी है तो कृमीकंटक रस,क।कृमी शत्रु योग,कृमी कुठार,मुदगर रस ,कमेला,बायबिडंग, कृभी घन योग,मुस्तादी वटी आदि अनेकों योग है। जब अमेरिका राष्टरपति कलोरोकविन की ईलाज की आग्या प्रदान कर सकतै हैं तो हमारे माननीयों को आयुष के परिक्षित योगों को नही आजमाना चाहिऐ ? आशा है मेरी लाईने आप व क्यूरोफि डेस्क के माध्यम से आयुष मंत्राल्य तक पहुंचेगी।

(Edited)

10 Likes

LikeAnswersShare
Hit and Trial....
Well said...
Right
Copy paste... India to America
सत्य वचन

Cases that would interest you