क्या लवणभास्कर चूर्ण High BP मरीज मे प्रयोग मे ले सकते‌ हैं?? अगर हां तो कैसे? अगर नही तो क्यो

4 Likes

LikeAnswersShare

आप फिर से लवणभास्कर के योग को देखेंगे तो महसुस करेंगे कि यह जिग्यासा कितनी सही है ?इस में धनिया,जीरा व अनार दाने का भी संयोग दिया हुआ है जो बीपी को हम रखने में सहायक है ।अनुपालन भेद से किसी को भी दिया जा सकता है। अगर बीपी रोगी को संग्रणी हो तो छाछ के साथ दें । अतिसार में डीहाईड्रेशन के लिए तुम कोटी का सेलेलाईन है। लवणभास्कर अपने आप में कम्पलिट है और यह चिकित्सक पर है कि कहा ,कैसे प्रयोग करें।@Dr. Shahadat Khan .

सर नमस्कार ये कही आपने सही बात । आयुर्वेद के सिद्धांत अनुसार। सिर्फ सोडियम को देखकर थ्योरी नही बनानी चाहिए। आयुर्वेदिक सिद्धांत से काम करना चाहिए। मोडर्न और आयुर्वेदिक थ्योरी बहुत अलग हैं। बहुत धन्यवाद सर @S.k. Mudgal
2

View 3 other replies

No, should be avoided as it contains samudri namak ie sea salt as main ingredient which increases sodium in blood stream, disturbs the balance reduces the ability of kidneys to remove water so increases the blood pressure. So one should be very careful in deciding the dosage and I m seeing such cases in daily routine so pls consider my opinion respected doctors....specially in pitta prakrutti persons as lavan bhaskar subsides the kapha and vata doshas

I have monitored BP in a case I handled in which the BP was normal before the patient started LB choornam. Inspite of having low sodium diet and avoiding fried and oily foods, the BP was constant at 150/100 mm Hg. When analyzed, the reason turned out to be LB choornam. It is better to avoid it in Hypertensive patients.@ Pankaj Rahul
0

View 1 other reply

@Dr.Hemant Adhikari Sir Though The Lavan Bhashkara Churna Contained Of Lavana Rasa and Its Adhikara Is Vatanulomana And Aam Paachana But As You See The Panchabhauktika Constitution Of The Lavan Rasa Is Jala And Agni Mahabhuta Also It Kledaharaka Can Be Prescribed To Moderate Hypertensive Cases... I Also Agrre With Your Point That In Ayurveda There Is No Description Regarding The Hypertension But Still We Treat This As Per Yukthivyapashraya Chikitsa

Thank you sir
0

सिर्फ सोडियम पोटैशियम को देखकर थ्योरी एप्लाई ना करें। आयुर्वेदिक सिद्धांतों के अनुसार हमारी औषधीयां काम करती हैं। लवणभास्कर आमपाचक होता है और हम इसका उपयोग हाई बी पी रोगीयों में करते हैं और वो सही होते हैं। धन्यवाद

थोड़ा Logical भी होना पड़ेगा Modern Science भी पढ़ा है तो... Hypertension आयुर्वेद मे वर्णित नहीं है पर हम युक्ति व्यापाश्रयी करते तो है ना? आप बताइए क्या हमारे पास और कोई योग नहीं है जिसमें लवण ना हो पर आम पाचन करे? @Shahadat Khan @Panchajanya Kumar Deevi @Kedareshwar Pancholi @P. G. Shah @Ashish Deshpande @Shukla Vikram sir
0

View 4 other replies

No, Because of high amount of salt. Salt causes retention of water and retention of water causes elevation in BP. So better avoid it in hypertensive patient.

Thank you doctor
0

लवण भास्कर चूर्ण को हाइपरटेंशन के रोगियों को नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे नमक की मात्रा अधिक होती है।

Thank you sir
0

@Hemant Adhikari @S.k. Mudgal sir

No, chances of raise in BP due to salts ...

Thank you sir
1

View 1 other reply

नहीं दे सकते, किसी भी प्रकार का लवण जिसमें Sodium हो वो BP बढ़ाएगा ही बढ़ाएगा, और अगर रोगी Hypertensive है तो यह उसके लिए अपथ्य ही होगा @Shahadat Khan

Thank you sir
0

Never.....we can't suggest in htn pts .@Dr. Hemant Adhikari sir... I totally agreed wd ur opinion.

Thank you sir
1
Load more answers

Cases that would interest you