आचार रसयान

what is आचार रसयान? ayurveda is not outside of you, look inside yourself. आचार - to follow रसयान - which maintain the body. आचार रसयान उसे कहते है जिसका पालन करने से हम अपने शरीर को संतुलित रख के रोगों का प्रतिकार कर सकते है | आयुर्वेद एक ऐसा साइंस है जो रोगों को उसके मूल से दूर करता है और आगे भविष्य मे कोई और बीमारी ना हो इसके लिए उपाय भी बताता है | आचार्य चरक ने चरक संहिता मे कुछ ऐसे ही उपाय बताये है जिसका पालन करने से हम आने वाली बीमारियों से बच सकते है | उन्होंने उसे आचार रसयान नाम दिया है |जिसका पालन करने से हमे रसयान जैसे लाभ मिल सकते है उसे आचार रसयान कहते है | आचार रसयान मे हमे क्या करना चाहिए?? सत्य बोलना क्रोध नहीं करना मध्यसेवन और स्त्रीप्रसंग से निवृत हिंसा नहीं करना शांत चित सबसे प्रिय बोलना क्रूरता का व्यवहार नहीं करना करुणा भाव से व्यवहार जाप, दान देना, तप करना धैर्यवान सम जागरण सम स्वपन नित्य घी और दूध सेवन देव - गो - ब्राम्हण - गुरु - वरुध्ध की पूजा और सेवा करना देश - काल की परिस्थिति का ज्ञान रखना अहंकार नहीं करना उत्तम आचरण इन्द्रियों को आध्यात्मिक विषय में प्रवृत करना आस्तिक और जीतेन्द्र का सत्संग नित्य धर्म और शास्त्र का अध्यन करना इन सब का पालन करने से हम शारीरिक और मानसिक बीमारियों का प्रतिकार कर सकते है| jay ayurveda

18 Likes

LikeAnswersShare

बेशकीमती सूत्र हैं।इस में जीव का अपना हित तो छुपा ही है परन्तु चिकित्सक अपनाएं तो जगत का भी भला हैं।बहुत सुन्दर।

Thank you doctor
1

Khana khane se pahele rotti ke sath achar kana chiya khana khane ke bad gudre kana chahiya

Nice sirji i like tis

Thank you doctor
0

उत्तम

Thank you doctor
0