Dr. D P Sir कृपया अपना ज्ञान रूपी प्रकाश डालिए 🙏

वंगसेन संहिता

2 Likes

LikeAnswersShare

आचार्य श्री यादव जी तिक्रम जी एवं आचार्य श्री डॉ गंणनाथ सेन सरस्वती एवं गुरु जी वैद्य विधा भूषण जी सभी दिवंगत आत्मा है। मेंने 50 वर्ष पूर्व इन सब आचार्यों से जो ज्ञान प्राप्त किया है। उस के अनुसार ही मैं जो कुछ भी बताता हूं। वे सब योग परिक्षित होते हैं। वंगसेन संहिता में जो कुछ भी लिखा है। उन्होंने जो कुछ भी लिखा है वह बिल्कुल सही है। विषय लम्बा है समय का अभाव रहता है और,,,,,,

Valuable opinion
0

Cases that would interest you